नाओमी ने जीता यूएस ओपन खिताब, विवादास्पद फाइनल में सेरेना को हराया

0
16

जापान की नाओमी ओसाका ने शनिवार को अनुभवी सेरेना विलियम्स को विवादास्पद फाइनल में हराकर यूएस ओपन खिताब हासिल करते हुए इतिहास रच दिया। नाओमी ग्रैंड स्लैम सिंगल्स खिताब जीतने वाली जापान की पहली खिलाड़ी बन गई।

20 वर्षीया ओसाका ने यह मुकाबला 6-2, 6-4 से जीता। सेरेना पर इस मैच के दौरान आचार संहिता के उल्लंघन के चलते पहले एक अंक और फिर एक गेम की पेनल्टी लगाई गई। यह मैच सबसे विवादास्पद फाइनल के रूप में याद किया जाएगा।

ओसाका ग्रैंड स्लैम सिंगल्स खिताब जीतने वाली जापान की पहली खिलाड़ी बनने का प्रयास कर रही थी जबकि सेरेना यह मैच जीतकर मार्गरेट कोर्ट के 24 ग्रैंड स्लैम खिताबों के रिकॉर्ड की बराबरी करने के लिए कोर्ट पर उतरी थी।

चेयर अंपायर कार्लोस रामोस ने दूसरे सेट के दूसरे गेम में सेरेना के कोच पेट्रिक को प्लेयर्स बॉक्स से इशारा करते हुए देखा, नियमों के इस उल्लंघन के लिए सेरेना को चेतावनी दी गई। इसके बाद सेरेना का व्यवहार खराब होता गया और उन पर रैकेट पटकने के लिए एक अंक का जुर्माना लगाया गया। इससे भड़की सेरेना अंपायर के पास जा पहुंची और उन्हें झूठा और पेनल्टी के अंक के लिए चोर कह दिया, इस पर अंपायर ने उन पर एक गेम का जुर्माना लगा दिया।

सेरेना पर लगा जुर्माना

सेरेना विलियम्स पर टूर्नामेंट के फाइनल मैच के दौरान आचार संहिता के उल्लंघन के चलते 17000 डॉलर (करीब 12 लाख रुपये) का जुर्माना लगाया गया है। अमेरिका टेनिस संघ (यूएसटीए) ने रविवार को इसकी जानकारी दी। टूर्नामेंट के रेफरी ने पूर्व विश्व नंबर एक सेरेना पर चेयर अंपायर रामोस के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल करने के लिए 10000 डॉलर (करीब सात लाख रुपये), कोचिंग की चेतावनी के लिए 4000 डॉलर (करीब तीन लाख रुपये) और रैकेट को कोर्ट पर फेंकने पर 3000 डॉलर (करीब दो लाख रुपये) का जुर्माना लगाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here