बगैर अनुमति वन भूमि पर बांधा पुल@ बीटीआर के भूमि का मामला

0
22

(Amit Dubey-8818814739)
ताला। बांधवगढ़ टाइगर रिजर्व वर्तमान समय में खनन माफिया वह पंचायती निर्माण से अपना अस्तित्व खोते नजर आ रहा है, टाइगर रिजर्व के उपमंडल मानपुर के अंतर्गत वन परिक्षेत्र मानपुर, बीट कुचवाही की वन कंपार्टमेंट नंबर 185 के अंदर आराजी खसरा नंबर 39 जो पूर्व में वन विभाग के अंदर थी, जिसे नोटिफिकेशन के दौरान 1972 के तहत 1,80 एकड़ को बाहर किया गया, शेष भूमि वन विभाग के कब्जे में है, जिसे पंचायत वन विभाग की बगैर अनुमति लिए ग्राम पंचायत सार्वजनिक दावा प्रस्तुत स्वीकार करे वन भूमि को राजस्व मानकर पुल व रोड का निर्माण वन विभाग के रोक के बाद भी करवा दिया गया।
यह मामला जब प्रकाश में आया कि ग्राम ताला के ग्राम पंचायत सरपंच द्वारा वन विभाग के रोके के बाद भी बफर जोन की भूमि पर अवैध रोड वह पुल का निर्माण करा दिया गया, 10 नवम्बर 2019 को वन परिक्षेत्र अधिकारी मानपुर बफर जोन के नोटिस क्रमांक 3466 के तहत उपरोक्त हो रहे पुल निर्माण अन्य कार्य पर रोक लगाई गई थी, किंतु आदेश का पालन न करते हुए वन भूमि पर अवैध निर्माण करा दिया गया, जिसके कारण लगभग 10 एकड़ का जंगल पेड़ व अन्य प्रजाति जानवरो व पक्षी के आवासों प्रभावित हुए।
स्थानीय जानकारों की माने तो अगर प्रशासन दबंग सरपंच के कार्यकाल के निर्माणों की समीक्षा करें तो, कई भ्रष्टाचार खुलकर सामने आ सकते हैं, खबर है कि टाइगर रिजर्व के कुछ ऐसे अधिकारी ऐसे भी है, जिन्हें वन भूमि पर हुए निर्माण से लाभ भी मिला है, इसलिए विभाग ने इस ओर से आंखे मूंद रखी हैं। इस बात के प्रमाण इसी से मिल जाते हैं कि विभाग द्वारा नोटिस तो जारी किया, लेकिन निर्माण कार्य भी हो गया। वहीं वन परिक्षेत्र अधिकारी द्वारा पुन: नोटिस देने की बात कर अपनी ओर से इतिश्री कर ली गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here